जीपीएस आधारित टोल संग्रहण व्यवस्था स्वीकृत: नितिन गडकरी

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग और एमएसएमई मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार ने देश भर में वाहनों के निर्बाध आवागमन के लिए टोल संग्रहण हेतु जीपीएस (ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम) को लागू किए जाने को अंतिम रूप दे दिया है। उन्होंने कहा कि इससे भारत को अगले दो वर्षों में टोल बूथ मुक्त किया जाना सुनिश्चित किया जा सकेगा।

NHAI Running Project Report

आज यहाँ एसोचैम के स्थापना सप्ताह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों के जुड़ी अर्थव्यवस्था में सुधार के लिए “राष्ट्रीय बुनियादी पाइपलाइन” पर अपना दृष्टिकोण साझा करते हुए कहा कि टोल के लिए वसूला जाने वाला शुल्क वाहनों के परिचालन के आधार पर सीधे बैंक खातों से लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अब सभी वाणिज्यिक वाहनों में पहले से ही वाहन ट्रैकिंग प्रणाली लग कर आ रही है,पुराने वाहनों में भी जीपीएस सिस्टम लगाए जाने के लिए सरकार जल्द ही कोई योजना लेकर आएगी।

केंद्रीय मंत्री ने आशा व्यक्त की कि आगामी मार्च तक टोल संग्रहण 34,000 करोड़ रुपये तक पहुँच सकता है। श्री गडकरी ने सूचित किया कि टोल संग्रहण के लिए जीपीएस तकनीकि के इस्तेमाल से आगामी 5 वर्षों में टोल से होने वाली आय बढ़ते हुए 1,34,000 करोड़ रुपये तक पहुँच सकती है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि औद्योगिक विकास भारत में गरीबी उन्मूलन और रोजगार सृजन की कुंजी है। हालांकि इस समय भारत में उद्योग शहरी क्षेत्रों में केंद्रीकृत हैं, जिसके विकेन्द्रीकरण की आवश्यकता है अन्यथा बढ़ते शहरीकरण के चलते दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता तथा अन्य शहरों के समक्ष जैसी चुनौतियाँ बाकी शहरों में भी पैदा होंगी। उन्होंने कहा कि बुनियादी विकास में सरकारी-निजी भागीदारी के मॉडल को प्रोत्साहित किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने आश्वस्त किया कि जो परियोजनाएं आर्थिक रूप से व्यवहार्य नहीं होंगी उनमें सरकार पूरा सहयोग देगी।

Total
2
Shares
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Previous Article
Delhi Mumabi Expressway

M/s DCC got contract for Widening to two lane with geometric improvement from Morth

Next Article

Nitin Gadkari will inaugurate and lay foundation stone for33 highway projects in Karnataka

Related Posts
Read More

बिहार में 971 करोड़ रुपये की लागत वाली मुंगेर-भागलपुर राष्ट्रीय राजमार्ग सड़क के निर्माण की मंजूरी दी श्री गडकरी ने

केन्‍द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने बिहार में राष्ट्रीय राजमार्ग 80 पर 120 किलोमीटर…
Read More

राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश राजमार्ग तैयार करने के लिए विश्व बैंक ने 500 मिलियन डॉलर की परियोजना पर हस्ताक्षर किए

राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश में सुरक्षित और हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारों के निर्माण के लिए भारत…
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x